दुनिया के हर 8वें व्यक्ति के पास है हथियार

आर्म्स सर्वे दुनिया में लोगों की असुरक्षा की भावना

मंगलवार को जारी स्मॉल आर्म्स सर्वे दुनिया में लोगों की असुरक्षा की भावना को बताने के लिए काफी है। संयुक्त राष्ट्र में पेश की गई इस रिपोर्ट के मुताबिक वैश्विक स्तर पर हर आठ लोगों में से एक के पास हथियार (आग्नेय अस्त्र) मौजूद हैं।

230 देशों में हुआ यह सर्वे बताता है कि दुनिया में कुल एक अरब छोटे आग्नेयास्त्र (पिस्टल, कार्बाइन या बंदूक) आदि हैं। इनमें से 85 प्रतिशत आम लोगों के पास हैं। शेष 15 प्रतिशत ही सरकारी संस्थाओं, सुरक्षा एजेंसियों के पास हैं। अमीर देशों के नागरिकों का रुझान हथियार खरीदने की तरफ बढ़ा है।

अमेरिका का हथियार प्रेम

रिपोर्ट के लेखक आरोन कार्प के अनुसार नागरिक हथियारों में से 39.3 करोड़ केवल अमेरिका के पास हैं। यहां हर सौ लोगों पर 121 हथियार हैं। यह शीर्ष 25 देशों के कुल सिविलियन हथियारों से भी कहीं ज्यादा है। अमेरिका में गन कल्चर का आलम यह है कि यहां के नागरिक हर साल करीब 1.4 करोड़ हथियार खरीदते हैं।

सुरक्षा एजेंसियों के हथियारों की संख्या के मामले में अमेरिका पांचवें पायदान पर है। रूस, चीन, और भारत इससे ऊपर हैं। अमेरिका का हथियार प्रेम उसके लिए बड़ी त्रासदी बनता रहा है। 2016 में हत्या के 64 प्रतिशत मामले इन हथियारों के कारण ही हुए। 1982 के बाद से यहां 90 सामूहिक गोलीबारी के मामले हुए हैं।

 

प्रति सौ आबादी पर हथियार

हर सौ नागरिकों पर हथियार रखने की संख्या के मामले में भारत, रूस, चीन टॉप 25 से बाहर हैं। जबकि पाकिस्तान का नंबर 20वां है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *