नेताजी सुभाष प्लेस इलाके में हुई घटना

मैं पाकिस्तान की रहने वाली हूँ और माता पिता को छोड़कर भारत आ गई हूँ। मामला नेताजी सुभाष प्लेस इलाके में हुआ। 13 साल की किशोरी ने पुलिस वालों को झूठ बोलकर काफी परेशान किया। एक हफ्ते बाद पुलिस की छानबीन में किशोरी देवली इलाके की रहने वाली पता चली। अब पुलिस किशोरी को उसके परिवार को सौंपने की कोशिश कर रही है।
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि गत् नौ सितम्बर को नेताजी सुभाष प्लेस पुलिस को गश्त करते हुए एक किशोरी सड़क किनारे खड़ी मिली थी। बीट अफसर किशोरी को पुलिस स्टेशन ले आए। उसके पास से कुछ हजार रुपए भी मिले। किशोरी ने पूछताछ पर बताया कि वह पाकिस्तान की रहने वाली है। किशोरी को एक एनजीओ को सौंप दिया गया। पुलिस टीम ने तुरंत पाकिस्तान एबेंसी से संपर्क किया और किशोरी के माता पिता के बारे में पता करने की कोशिश की। एंबेसी से पता चला कि किशोरी ने जो पता और माता पिता का नाम बताया है। ऐसा कोई पता है ही नहीं। जांच टीम ने इंदिरा गांधी एयरपोर्ट अधिकारियों से संपर्क किया और किशोरी के बारे में पता करने की कोशिश की। अधिकारियों से पता चला कि किशोरी का जो नाम है। उस नाम से इस साल में कोई यात्री पाकिस्तान से आया ही नहीं है। जांच टीम ने शक होने पर किशोरी से दोबारा पूछताछ की। किशोरी ने डरकर बताया कि वह नेब सराय के देवली रोड जवाहर नगर इलाके में रहती है। उसके माता पिता आपस में काफी झगड़ा करते हैं। जिससे वो काफी परेशान हो गई थी। वह घर से कुछ हजार रुपए निकालकर भेष बदलकर भाग गई थी। लेकिन भागने के बाद वह काफी डर गई थी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि किशोरी के मोबाइल फोन को खंगालने पर पता चला है कि उसके पाकिस्तान के काफी दोस्त हैं। जिनमें से एक का पता उसने पुलिस को बताकर उनको भटकाने की कोशिश की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *