भारत ने न्यूजीलैंड को दी मात

उन्होंने हमें तीनों मैच में चुनौती दी और हमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के  लिये मजबूर किया. आज अंतिम क्षणों में मैंने पूरा जिम्मा गेंदबाजों पर छोड़ने का फैसला किया ताकि वे जैसा चाहें वैसी गेंदबाजी करें और यही वजह  थी कि मैं शांत बना रहा. ओस भी थी और खुशी है कि लड़के टीम को जीत दिलाने में सफल रहे. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘विकेट आसान था और गेंद  अच्छी तरह से बल्ले पर आ रही थी. इसलिए मुझे लगता है कि हमने 25 रन कम बनाये. इसलिए खुशी है कि गेंदबाजों ने सही समय पर अच्छा प्रदर्शन किया. यह हमारे लिये नाकआउट मैच जैसा था और खिलाड़ियों ने जज्बा दिखाया. ’’ कोहली ने शतक बनाया और इस बीच वह वनडे में सबसे  तेज 9000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाज बने. भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘मेरा लक्ष्य टीम के लिये मैच और श्रृंखला जीतना होता है और अगर मैं निजी तौर पर अच्छा प्रदर्शन करता हूं तो यह बोनस होता है. इन चीजों (रिकार्ड) को नजरअंदाज करना मुश्किल होता है क्योंकि हम इनके बारे में सुनते  रहते हैं लेकिन हमारा लक्ष्य किसी भी स्थिति में टीम को जीत दिलाना होता है. ’’ न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने कहा कि भले ही उनकी टीम श्रृंखला हार गयी लेकिन उनकी टीम के लिये कई सकारात्मक पहलू रहे. विलियमसन ने कहा, ‘‘बहुत शानदार श्रृंखला रही और इसमें कुछ  अच्छी क्रिकेट देखने को मिली. कोहली और उनकी टीम को श्रेय जाता है. वह हमसे थोड़ी बेहतर टीम साबित हुई. हमारे लिये काफी सकारात्मक पहलू रहे. इस मैच में इतने करीब पहुंचने पर हारना निराशाजनक रहा है लेकिन यह भी अच्छा संकेत है. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘पिच शुरू से  आखिर तक अच्छी रही और जिस टीम ने बेहतर खेल दिखाया वह जीती. लेकिन हमारे मध्यक्रम ने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया. टाम लैथमहेनरी  निकोल्स,रोस टेलर ने अच्छी बल्लेबाजी की. हमारे तेज गेंदबाजों ने मुश्किल परिस्थितयों में अच्छा प्रदर्शन किया. भारत ने अच्छी क्रिकेट खेली और वे जीत के हकदार थे.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *