सोनू दरियापुर गिरोह का एक और शार्पशूटर गिरफ्तार ।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मियांवाली नगर में हुए तिहरे हत्याकांड में शमिल सोनू दरियापुर गिरोह के शार्पशूटर को गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया युवक सोनू दरियापुर का भांजा है। उसके कब्जे से एक पिस्टल और दो कारतूस बरामद किये गये हैं। परमीत डबास नामक यह आरोपी रग्बी का अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी है। तिहरे हत्याकांड में पुलिस अब तक सात लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस उपायुक्त पी के कुशवाहा ने बताया कि 30 अप्रैल को भैरो इंक्लेव, मियांवाली नगर में हुई भपेंद्र उर्फ मोनू उर्फ टेंपो और उसके साथी अरुण तथा एएसआई विजय की हत्या के मामले में सातवें हत्यारोपी प्रमीत को संजय वन, अरुणा आसफ अली रोड, दरियागंज से गिरफ्तार किया गया है। कंझावला, दिल्ली का रहने वाला डबास 2007 में कुमासपुर, सोनीपत के रणबीर की हत्या का सह आरोपी है। इस मामले में वह हत्यारोपी संदीप छावलिया के साथ तीन साल जेल में रह चुका है। 2005, 2006 तथा 2015 में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर रग्बी में देश का प्रतिनिधित्व भी कर चुका है। 2016 में बीमारी के दौरान ईलाज के भारी खर्चे के निपटान में सोनू दरियापुर ने उसकी सशर्त सहायता की। शर्त के हिसाब से परमीत को मोनू दरियापुर की हत्या में मदद करनी थी। परमीत ने शर्त पूरी करने के लिए निहाल विहार में गैंग के सदस्यों के ठहरने के लिए अपनी आईडी पर किराये पर मकान लिया। साथ ही उसने मोनू की रेकी भी की।परमीत की ही सूचना के आधार पर सोनू ने अपने गिरोह के आठ अन्य सदस्यों के साथ मोनू दरियापुर को घेर लिया और उसकी उसके साथी तथा पीएसओ सहित हत्या कर दी। गोलीबारी में दूसरा पीएसओ कुलदीप गंभीर रूप से घायल हुआ था। तिहरे हत्याकांड में पुलिस सतीशस, नवीन खत्री, राजेश उर्फ राजे, सोनू उर्फ केजरीवाल, सुमित उर्फ पलोत्रा तथा संदीप उर्फ पाड़ू को गिरफ्तार कर चुकी थी। तीन फरार हत्या आरोपियों सत्यवान उर्फ सोनू दरियापुर और विजय लांबा तथा परमीत डबास में से परमीत की गिरफ्तारी के साथ कुल नौ हत्यारोपी पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं।⁠⁠⁠⁠

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *