सहारा का प्लाजा होटल,साढे़ तीन हजार करोड़ में बिका

sahra-plaza

100 साल से भी पुराना

 

कतर के सरकारी फंड ने 50 करोड़ डॉलर में ,न्यूयॉर्क स्थित प्लाजा होटल को खरीद लिया है।

50 करोड़ डॉलर (करीब 3,400 करोड़ रुपये)

न्यूयॉर्क के इस प्रतिष्ठित होटल में सुब्रत रॉय के नेतृत्व वाले सहारा इंडिया ग्रुप की बहुमत हिस्सेदारी है।

वॉल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक, कतर की सरकारी कंपनी कतर होल्डिंग ने सहारा समूह की 75 फीसद हिस्सेदारी समेत प्लाजा होटल का पूर्ण अधिग्रहण कर लिया है।

कतर होल्डिंग दुनियाभर में कतर सरकार के लिए होटल खरीद और प्रबंधन करने वाली हॉस्पिटेलिटी फंड कंपनी है।
मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि सौदे को सोमवार को अंतिम रूप दिया गया । सौदे के तहत कतर होल्डिंग ने 282 गेस्ट रूम और प्लाजा होटल के स्वामित्व वाली खाली जमीन का भी अधिग्रहण किया है।

दुनियाभर में प्राकृतिक गैस के सबसे बड़े निर्यातक कतर के पास लंदन में द सैवॉय और द कनॉट जैसे प्रतिष्ठित होटल भी हैं।

लंबे समय से बेचने के प्रयास में था सहारा समूह

“सहारा ने 2012 में 57.5 करोड़ डॉलर में इस होटल में नियंत्रक हिस्सेदारी खरीदी थी”।

कंपनी पिछले कुछ साल से इसे बेचने का प्रयास कर रही थी, लेकिन कोई सौदा हो पहुंच पाया।

पिछले साल कंपनी ने इसकी बिक्री के लिए ब्रोकरेज फर्म जॉन्स लैंग लासेल को नियुक्त किया था।

मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि पिछले साल करीब 50 प्राइवेट इक्विटी कंपनियों, सरकारों और अन्य निवेशकों ने प्लाजा होटल को खरीदने में रुचि दिखाई थी।

अटकलें लगाई जा रही थी

रिपोर्ट के मुताबिक, कतर की इस खरीद से प्लाजा होटल के स्वामित्व को लेकर चल रही तमाम अटकलें खत्म हो गई हैं। अप्रैल में दुबई स्थित ह्वाइट सिटी वेंचर्स के संस्थापक ‘शहल खान और हाकिम ऑर्गनाइजेशन के कामरान हाकिम ‘की अगुआई में निवेशकों के समूह ने इसे खरीदने का सौदा तय किया था।

लेकिन इसके हफ्तेभर बाद ही एश्केनाजी और प्रिंस अल-वालीद ने इस पर आपत्ति दर्ज करा दी।

उन्होंने बतौर शेयरधारक सौदे के खिलाफ अपने अधिकार का प्रयोग किया था |

तब से इसकी खरीद को लेकर तमाम अटकलें लगाई जा रही थीं।

ट्रंप भी रहे हैं इसके मालिक

न्यूयॉर्क के सर्वाधिक प्रतिष्ठित होटलों में शुमार प्लाजा होटल के मालिकों में पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और कोनराड हिल्टन भी शामिल थे।

ट्रंप इस होटल की तुलना “मोनालिसा”, से करते थे।

बैंक्रप्सी के मामले में ट्रंप को इस होटल के स्वामित्व से हाथ धोना पड़ा था।

1907 में खुला प्लाजा होटल इकलौता होटल है, जिसे अमेरिका में ऐतिहासिक स्थलों के राष्ट्रीय रजिस्टर में जगह दी गई है।

 

प्लाजा का इतिहास

प्लाटा होटल की नींव साल “1883 “में रखी गई थी।
तब यहां न्यूयॉर्क “स्केटिंग क्लब “हुआ करता था।
इसे बनने में कई साल से ज्यादा का वक्त लगा।
साल 1907 में 1 अक्टूबर को प्लाजा के दरवाजे जनता के लिए खोले गए।
पिछले 100 सालों से भी ज्यादा वक्त से होटल प्लाजा का दुनिया भर में डंका रहा है।
साल 2008 में इस पर करीब 450 मिलियन डॉलर खर्च कर इसकी भव्यता को और आधुनिक बनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *